The History Of Computer | Great Discovery |

Let’s read interesting about the history of computer

कंप्यूटर का इतिहास

आईये जानते हे उस उपकरण के बारे में जो आज के समय या यु कहा जाये जिस पर दुनिया का भविषय निर्भर करता हे, स्कूलों, कॉलेजों, कार्यालयों, अस्पतालों और सरकारी संस्थानों में कंप्यूटर का उपयोग सामान्य और जरूरी हो गया हे।आइये पढ़ते है कंप्यूटर के इतिहास के बारे में कुछ मज़ेदार.

कंप्यूटर का इतिहास 300 वर्ष से अधिक पुराना है।

हम मनुष्य एक सीमित स्तर तक ही गणितीय गणना कर सकते है।

बड़े गणितीय गणना करना, बिना किसी उपकरण के मनुष्य के लिए शुरू से ही कठिन रहा है।

गणितीय गणना को आसान बनाने की जरूरतों ने मनुष्यों को कंप्यूटर विकसित करने के लिए प्रेरित किया।

शुरुआत में कंप्यूटर द्वारा बड़े गणितीय गणना आसानी से किया जा सके इसलिए विकसित किया गया था।

कंप्यूटर विकसित कार्यप्रणाली  ने अलग- अलग तरीकों का विकास किया। 

अबेकस (Abacus) 

अबेकस को चीनी वैज्ञानिकों द्वारा लगभग 3000 वर्ष पूर्व विकसित किया गया था। मेकानिकल गणितीय गणना करने वाला “अबेकस” पहला उपकरण था। यह बिना किसी बिजली के चलने वाला पहला कंप्यूटर था, यह पूरी तरह मनुष्य के हाथों द्वारा काम करने वाला उपकरण था। बड़े गणितीय गणना “अबेकस” द्वारा करना आसान था, लेकिन “अबेकस” द्वारा गुणा-भाग नहीं क्या जा सकता था।संरचना ( structure ) 

the history of computer
the history of computer

लकड़ी से बना हुआ एक आयताकार ढाँचा ( Framework ) होता है, जिसके अन्दर प्रत्येक तार में पक्की मिट्टी से बने हुए गोलाकार मोती होते हैं।

जॉन नैपियर  (1550-1617)

the history of computer
the history of computer

स्कॉटिस गणितज्ञ “जॉन नैपियर” ने वर्ष 1616 में गणना उपकरण अविष्कार किया।

“जॉन नैपियर” लघुगणक खोज के कारण बहुत प्रसिद्ध हुए थे। “लघुगणक” ने जटिल गणनाओं को बहुत आसान बना दिया है। 

लघुगणक, नेपियर बोन्स और दशमलव अंकन जैसी विशेष खोज “जॉन नैपियर” ने किया था। 

खास बातें-

नेपियर बोन्स का निर्माण – स्कॉटलैंड.

उपकरण का अविष्कार किया – जॉन नैपियर

नेपियर बोन्स नाम क्यू पड़ा – क्योंकि जानवरों की हड्डियों (बोन्स) से बना था.

आकार – आयताकार.

पास्कलाइन

अबेकस (Abacus) और नेपियर बोन्स  की खोज के बाद कंप्यूटर की खोज ने अपना कदम बढ़ाया जब “पास्कलाइन” का अविष्कार हुआ।1642 में “पास्कलाइन” की खोज “ब्लेज़ पास्कल” ने की थी।

the history of computer
the history of computer

“ब्लेज़ पास्कल” एक फ्रेंच (French) गणित विशेषज्ञ, भौतिक विज्ञानी और धार्मिक दार्शनिक थे।

19 जून, 1623 को गणितज्ञ “ब्लेज़ पास्कल” का जन्म हुआ था।

अबैकस की तुलना में “पास्कलाइन” अधिक तेज़ी से गणना कर सकता था, यह पहला मैकेनिकल कैलकुलेटर था।

डिफरेंस इंजन और एनालिटिकल इंजन

डिफरेंस इंजन

ब्रिटिष गणितज्ञ चार्ल्स वैबेज (Charles Babbage) ने 1822 में डिफरेंज इंजन का आविष्कार किया था।

the history of computer

पहले भी कम्प्यूटर्स को विकसित करने के काफी प्रयत्न हुआ, किन्तु उसमें काफी खामियां रही थी जिसे दूर करने के प्रयास ने आधुनिक कम्प्यूटर को विकसित करने पर जोर दिया।

डिफरेंस इंजन  जो भाप से चलता था और गणना कर सकता था।

एनालिटिकल इंजन

“डिफरेंस इंजन” के कामयाबी ने “चार्ल्स बैबेज” ऐसे कंप्यूटर बनाने को प्रेरित किया जो प्रोग्राम द्वारा संचालित किया जा सके। वर्ष 1842 में स्वयं संचालित तथा दिए गए निर्देशों के अनुसार परिणाम दे सके ऐसे यन्त्र को विकसित किया गया जिसे “बैबेज विश्लेषणात्मक (एनालिटिकल) इंजन” नाम दिया गया।

the history of computer
the history of computer

“बैबेज विश्लेषणात्मक (एनालिटिकल) इंजन” को दुनिया का पहला आधुनिक कम्प्यूटर कहा जाता है। आधुनिक कम्प्यूटर को विकसित करने वाले “चार्ल्स बैबेज” को “फादर ऑफ कंप्यूटर” कहा जाता है।

Thanks for reading about the history of computer.

Also Read….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *